उद्योग संबंधी अपडेट: भारत में स्थानीय भाषाओं की पहुँच

भारत को इसकी सांस्कृतिक, धार्मिक, जीवनशैली और विश्वास संबंधी विविधता के लिए जाना जाता है और यहाँ पर कई प्राचीन भाषाएँ व बोलियाँ पाई जाती हैं। पढ़ना जारी रखें “Industry Update: Penetration of local languages in India”

बहुभाषी वेबसाइट होने के 5 लाभ

राल्फ़ वाल्डो एमर्शन ने कभी कहा था: किसी भी व्यक्ति को तब तक किसी देश की यात्रा नहीं करनी चाहिए, जब तक वह उस देश की भाषा सीख नहीं लेता.. पढ़ना जारी रखें “5 benefits of having a multilingual website”

लोकलाइज़ किया गया UX: बेकार की चीज़ है या ज़रूरत है?

फ़्रेंच लेखक ने कहा था, अनुवाद करना लिखना ही है Marguerite Yourcenar.

आज हम जिस युग में हैं, उसमें हम यह भी कह सकते हैं कि अनुवाद करना वास्तव में डिज़ाइन करना है। पढ़ना जारी रखें “Localised UX: fad or need?”

उद्योग संबंधी अपडेट: भारत में ई-कॉमर्स का विकास

एक संयुक्त ASSOCHAM-फ़ॉरेस्टर अध्ययन पत्र के अनुसार, ऐसी अपेक्षा की जाती है कि भारत में ई-कॉमर्स से होने वाली आय 2016 में $30 करोड़ से बढ़कर 2020, में $120 करोड़ हो जाएगी और इसकी वार्षिक वृद्धि दर 51%, होगी, जो पूरी दुनिया में सबसे अधिक होगी। पढ़ना जारी रखें “Industry Update: Growth of eCommerce in India “

व्यवसायों के लिए भाषा की शक्ति

भाषा की उत्पत्ति सदियों से एक बहस का विषय रही है। इस बात का कोई वास्तविक प्रमाण नहीं है कि मानव जाति ने कैसे और कब भाषा का इस्तेमाल करना आरंभ किया। ऐसा माना जाता है कि आधुनिक मानवीय व्यवहार के साथ भाषा अस्तित्व में आई।

पढ़ना जारी रखें “व्यवसायों के लिए भाषा की शक्ति”